Categories
Crime

सुल्तानपुर के मंदिर परिसर में लटकती मिली बालयोगी साधु की लाश

छतौना बाजार के पास वीर बाबा मंदिर परिसर में एक बालयोगी साधु की लाश गुरुवार को पेड़ से लटकती हुई पाई गई जिसे देखते ही इलाके में हड़कंप मच गया

सुल्तानपुर: महाराष्ट्र के पालघर और यूपी के बुलंदशहर में साधुओं की हत्या के बाद अब मामला सुल्तानपुर से आया है। छतौना बाजार के पास वीर बाबा मंदिर परिसर में एक बालयोगी साधु की लाश गुरुवार को पेड़ से लटकती हुई पाई गई जिसे देखते ही इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। लोगों ने हत्या करके लाश को लटकाने का आरोप लगाया है।

पुलिस हत्या और आत्महत्या की गुत्थी को सुलझाने में जुट गई है। जानकारी के अनुसार गुरुवार सुबह छतौना बाजार वीर बाबा मंदिर के परिसर संदिग्ध हालात में बालयोगी सत्येंद्र आनंद सरस्वती महाराज नागा बाबा (22) का शव पेड़ से लटकते हुए मिलने पर लोगों में हड़कंप मच गया। ये खबर जंगल में आग की तरह फैली और देखते ही देखते काफी संख्या में स्थानीय लोगों की भीड़ घटना स्थल पर जमा हो गई।

लोग का कहना है कि बाबा की हत्या करके लाश को लटका दिया गया है या उसने खुद आत्महत्या कर लिया है? स्थानीय लोगों ने बताया कि बाल योगी आनन्द सरस्वती बाबा हिमाचल प्रदेश से आए हुए थे और सालों से यहां चांदा थाना क्षेत्र के छतौना कला ग्राम के वीर बाबा मंदिर पर रहते थे। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस ने बाबा के शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस की जांच हत्या या आत्महत्या के बीच केंद्रित है। पुलिस का कहना है कि जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही घटना का खुलासा हो पाएगा।

पुलिस भी बाल योगी आनन्द सरस्वती बाबा की लाश मिलने के बाद इसी बिंदु की जाँच में जुटी है। पुलिस का कहना है कि जाँच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही घटना का खुलासा हो पाएगा।

सोशल मीडिया पर इस खबर को लेकर लोगों में आक्रोश देखने को मिल रहा है। महाराष्ट्र में साधुओं की लिंचिंग पर चुप्पी साधने वाली कॉन्ग्रेस ने भी मौका देख कर भाजपा पर निशाना साध दिया है।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US

Leave a Reply