Categories
India

गूगल में सबसे ज्यादा ढूंढें जाने वाले व्यक्ति बने कोविंद

नई दिल्ली — कल तृणमूल कांग्रेस के नेता व पूर्व क्विज़ मास्टर डेरेक ओ ब्रायन ने जब ट्विटर के ज़रिए लोगों से पूछा कि क्या उन्हें भाजपा/एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के बारे में जानने के लिए विकिपीडिया का सहारा लेना पड़ा तो प्रतिक्रियाएँ तीव्र और आलोचनात्मक आईं। ओ ब्रायन को मिथ्याभिमानी कहा गया। वो किस प्रकार के क्विज़ मास्टर रहे हैं यह पूछ कर कुछ उत्तरदाताओं ने उन्हें ताने मारे।

पर आज पता चला कि बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर ऐलान के साथ ही वो सोमवार को गूगल पर सबसे ज़्यादा ढूंढें जाने वाले व्यक्ति बन गये हैं। लोगों ने सबसे अधिक उनकी ‘जाति’ सर्च की।

17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले भाजपा ने अपना उम्मीदवार घोषित कर एक ओर जहां हर किसी को चौंका दिया है, गूगल सर्च के मुताबिक रामनाथ कोविंद की कास्ट यानी जाति को इतना ढूँढा जाना भी हैरान करने वाले रहा।

दलित
रामनाथ कोविंद

लोगों ने कई तरह से रामनाथ कोविंद का नाम ढूंढा। लोगों ने ‘रामनाथ कोविंद’, ‘राम नाथ कोविंद’, ‘रामनाथकोविंद’, ‘बिहार राज्यपाल’ लिखकर सर्च किया। लोगों ने गूगल पर कोविंद की फोटो भी सर्च की। इतना ही नहीं, लोगों ने यह भी पता लगाने की कोशिश की कि कोविंद की शादी हुई है या नहीं।

उल्लेखनीय है कि रामनाथ कोविंद कानपुर के देहात के परौंखा गांव के निवासी हैं और उनकी जाति का शुमार अनुसूचित जातियों में होता है। दो बार राज्यसभा सांसद रहे कोविंद पार्टी के अनुसूचित जाति और जनजाति मोर्चे के अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी के समय में पार्टी का प्रमुख दलित चेहरा रहे कोविंद काफी सौम्य और सरल स्वाभाव के हैं। इसी वजह से ये माना जा रहा है कि विपक्ष भी उनकी दावेदारी को नकार नहीं पाएगा।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US

Leave a Reply