Categories
India

उ०प्र० में 74 मुआमलों की फ़ाइलें ग़ायब होने पर सुप्रीम कोर्ट नाराज़

नई दिल्ली — उत्तर प्रदेश में हत्या और क़ातिलाना हमले के 74 मुआमलों की फ़ाइलें ग़ायब होने पर सुप्रीम कोर्ट ने नाराज़गी जताई है । कोर्ट ने कहा कि दोषियों की छोड़ा नहीं जाएगा। कोर्ट ने कहा कि दोषी चाहे किसी भी पद पर बैठा अधिकारी क्यों न हो, हम एक झटके में उसे सस्पेंड करेंगे। मामले की अगली सुनवाई 21 अगस्त को होगी।

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से पूरा ब्यौरा मांगा है। एक-एक केस का रिकार्ड दीजिए कि किस-किस अधिकारी की कस्टडी में फाइल गई यह भी बताइये। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को मामले मे पक्षकार बनाया है। सुनवाई के दौरान राज्य के एडवोकेट जनरल ने कोर्ट में कहा हम पूरा रिकार्ड कम्पाइल करके कोर्ट में देंगे।

उत्तर प्रदेश में हत्या और क़ातिलाना हमले जैसे गंभीर अपराधों की 74 फ़ाइल और रिकार्ड हाईकोर्ट में अपील दाख़िल करने के दौरान ग़ायब हो गए।

राज्य के एडवोकेट जनरल ने कोर्ट में कहा कि ये मामले 1981 से 1991 के बीच के हैं। संख्या 74 से 162 तक हो सकती है। इनमें से कुछ केस लंबित हैं तो कुछ में रिकॉर्ड के अभाव में आरोपी बरी हो गए हैं।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US