Categories
India

प्रधानमंत्री ने अपना Weibo अकाउंट बड़ी मुश्किल से डिलीट किया

प्रधानमंत्री कार्यालय काफ़ी प्रयास के बाद 115 में से 113 पोस्ट्स हटा पाया क्योंकि Weibo ऐप से VIP अकाउंट्स हटाने की प्रक्रिया बेहद पेचीदा है

भारत के बाज़ार में सक्रिय चीन से जुड़े 59 मोबाइल applications (अनुप्रयोगों) पर प्रतिबंध लगाने के निर्णय के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के ट्विटर जैसे सोशल मीडिया ऐप Weibo से अपना खाता डिलीट कर दिया है। इससे पहले चीन ने प्रधानमंत्री मोदी के खाते को हटाने की कोशिश की थी, लेकिन यह पता चला कि चीनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वीआईपी खातों को हटाने की प्रक्रिया ‘जटिल’ है।

इससे पहले चीन भारतीय दूतावास द्वारा अपलोड किये गए कई तथ्यों को अपने यहाँ के सोशल मीडिया ऐप्स से हटा चुका था। ऐसे में जब प्रधानमंत्री की आईटी टीम ने देखा कि केवल अकाउंट हटाना मुश्किल है और वैसे भी मौजूदा कुछ पोस्ट्स ग़ायब हैं तो उन्होंने ऐसे उपाय किये कि ऐप भारत में निष्क्रिय हो जाए और अकाउंट तक भी पहुंचा न जा सके।

सरकार ने खाता हटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। एक सरकारी अधिकारी ने कहा, ‘चीन ने बड़ी मुश्किल से प्रधानमंत्री के अकाउंट को हटाने की अनुमति दी।’

प्रधानमंत्री मोदी ने 2015 में चीनी सोशल मीडिया पर अपनी शुरुआत की थी। अंतरिम उपाय के रूप में प्रधानमंत्री कार्यालय ने Weibo से अपने पोस्ट्स को हटाने का फ़ैसला किया। एक सूत्र ने बताया कि ‘प्रधानमंत्री मोदी के Weibo पर 115 पोस्ट्स थे।’ समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से कहा कि उन्हें मैन्युअल रूप से हटाने और बहुत प्रयास के बाद 113 पोस्ट्स हटा दिए गए।

सरकार ने सोमवार को एक आँकलन के बाद 59 मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था जो ऐसी ‘गतिविधियों में लगे हुए थे जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रहपूर्ण हैं’।

कई विश्लेषकों का कहना है कि यह कदम अन्य देशों के लिए चीनी कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने का खाका बन सकता है, इससे बीजिंग नाराज है। चीन ने कल शाम एक बयान में दावा किया कि भारत सरकार ने प्रतिबंध चुनिंदा और भेदभावपूर्ण तरीके से अस्पष्ट और अवास्तविक आधार पर चीनी ऐप्स को निशाना बनाया और राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रावधान का दुरुपयोग किया, जब कि चीन ने वर्षों से इंटरनेट वेबसाइटों पर अपना प्रतिबंध लगाया हुआ है! बीजिंग अपने नागरिकों को ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब जैसी साइटों तक पहुंचने की अनुमति नहीं देता है।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US

Leave a Reply