29 C
New Delhi
Sunday 9 August 2020

कोहली — लॉकडाउन के दौरान ग़रीबों की मदद कर रहा आरएसएस

कोरोनावायरस महामारी का प्रकोप थमता हुआ नहीं दिख रहा है। आए दिन कोरोना संक्रमितों की तादाद में लगातार वृद्धि हो रही है। वायरस से रोकथाम के लिए देश भर में 31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। ऐसे में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सम्बंधित संगठन ‘सेवा भारती’ लगातार जरूरतमंदों तक सहायता पहुँचा रही है। अब भारतीय कप्तान विराट कोहली ने सेवा भारती के कदमों की प्रशंसा की है।

इसका एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें कोहली कोरोना संकट के बीच दिल्ली और देश भर में संकट में फँसे लोगों की मदद करने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठन ‘सेवा भारती’ के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए नज़र आ रहे हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि, “हैलो दोस्तों, आपका दिन शुभ हो। आपको हैलो के लिए ये मेरा छोटा सा मैसेज है। आशा हैै कि आप लोग स्वस्थ होंगे। मैं दिल्ली सेवा भारती को बधाई देना चाहता हूँ, जिसने पूरे वर्ष अद्भुत काम किया।”

विराट कोहली ने कहा, “अब उन्होंने दिल्ली के स्कूलों में अपनी सेवाएँ देने का फैसला लिया है। जहाँ जाकर वो अपनी सेवा ड्राइव चलाएँगे और दूसरों की सहायता करेंगे। तो इसलिए मैं आपसे कहना चाहता हूँ कि आप इसे दिल से और पवित्र इरादे से करें और आप जो सबसे बेहतर कर सकते हैं, वो है दूसरों की मदद, दूसरों की सेवा। मैं आपकी सुरक्षा और बेहतर स्वास्थ्य के लिए कामना करता हूँ। आपके शुभ कार्यों को देखते हुए ईश्वर आप पर कृपा बनाए रखें।”

इसे भी पढ़े: Kohli: Focussing on mental state, can pick up from where I left

दिल्ली में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ काफ़ी काम कर रहा है और लगातार जनसेवा में लगा हुआ है। संघ के संगठन ‘सेवा भारती’ ने पूरी दिल्ली में ग़रीबों को खाना खिलाने से लेकर बेसहारा लोगों को ज़रूरी संसाधन मुहैया कराने के लिए दिन-रात एक किया हुआ है।

दिल्ली में 5000 संघ कार्यकर्ता लगातार लोगों के बीच भोजन बाँटने में लगे हुए हैं। अगर वैसी स्थिति आती है तो रोजाना डेढ़ लाख भोजन के पैकेट वितरित किए जाएँगे। फ़िलहाल 75 हज़ार भोजन के पैकेट रोज बाँटे जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े: Hindu Internal Feud: RSS Vs Sects It’s Ignorant About

संघ ने 6 मई 2020 को बताया कि वह देश भर के 67,336 स्थानों पर एक साथ राहत-कार्य चला रहा है। आरएसएस के 3,42,319 कार्यकर्ता इस काम में लगे हुए हैं।

संघ न सिर्फ़ लोगों के खाने-पीने का प्रबंध कर रहा है, बल्कि उनके स्वास्थ्य का भी ध्यान रख रहा है। संघ ने अब तक 50,48,088 परिवारों को राशन किट मुहैया कराया है। इतनी बड़ी संख्या में परिवारों तक पहुँचना ये बताता है कि आरएसएस देश के दूर-दराज इलाक़ों में भी कमान थामे हुए है। 6 मई तक कुल 3,17,12,767 भोजन पैकेट्स वितरित किए गए थे।

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस देश में दिन-प्रतिदिन तेजी से पैर पसार रहा है। जो देश के लिए अच्छे संकेत नहीं है। कोरोना को नियंत्रित करनें के लिए मोदी सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है।

Other Opinion Pieces

Hindu Yoga Alone Can Be Universalised

The Hindu philosophy follows a certain set of practices, as a result of which attempts of extrapolation outside that ambit are dubious at best