Categories
India

कर्नाटक मंत्रिमंडल—नाराज नेताओं को मनाने में जुटा कांग्रेस हाईकमान

नई दिल्ली— एक ओर जहां कर्नाटक सरकार सोमवार से मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व में कार्यभार पूर्णत: संभालेगी वहीं दूसरी ओर कांग्रेस नेताओं में अब तक मंत्री पद मांगने वालों की होड़ और नाराजगी का दौर जारी है। इसी सिलसिले में कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व सहित हाईकमान नाराज नेताओं से बातकर कर उन्हें समझाने में जुटा है।

इसी सिलसिले में कर्नाटक में जनता दल (सेकुलर)-कांग्रेस गठबंधन की सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में गृह मंत्रालय पद की मांग करने वाले डीके शिवकुमार ने मामला सुलझने का दावा करते हुए रविवार को कहा, ‘मुद्दे सुलझ गए, मैं सभी विधायकों के संपर्क में हूं, कुछ गलत नहीं होगा।’

इससे पहले कर्नाटक विधायक एमबी पाटिल ने शनिवार को दिल्ली पहुंच कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। इसके ठीक बाद उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से मुलाकात कर उन्हें भी इस मसले से अवगत कराया। दरअसल, कांग्रेस नेताओं में नाराजगी का आलम ये है कि पूर्व मंत्री एचएम रेवन्ना ने तो पार्टी छोड़ने का ही मन बना लिया है तो कांग्रेस विधायक रामलिंगा रेड्डी के समर्थकों ने शनिवार को बेंगलुरु के टाउन हॉल के सामने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस की गठबंधन सरकार का छह जून को ही मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व में मंत्रिमंडल का विस्तार और शपथ ग्रहण हुआ था। मंत्रिमंडल विस्तार में 25 मंत्रियों में 14 कांग्रेस के और नौ जनता दल (सेकुलर) के हैं, तथा एक-एक बहुजन समाज पार्टी और कर्नाटक प्रज्ञावंता जनता पक्ष से हैं। उससे ठीक एक दिन पहले दोनों पार्टियों के बीच बैठक में मंत्रिमंडल विस्तार पर सहमति भी बनी थी। हालांकि कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस के नाराज विधायक भाजपा से भी नेता जोड़ सकते हैं।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US

Leave a Reply