Categories
India

गृहमंत्री राजनाथ सिंह जम्हूरियत की नब्ज टटोलने हुए कश्मीर रवाना

नई दिल्ली – केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह जम्मू-कश्मीर घाटी में लगातार हिंसा तथा एनआईए छापे के बाद उत्पन्न परिस्थितियों की समीक्षा के लिए आज अपने चार दिवसीय कश्मीर दौरे पर रवाना हो गए। इस दौरे में अहम बात यह है कि राजनाथ की अलगाववादियों से किसी भी प्रकार की चर्चा एजेंडे में शामिल नहीं है।
राजनाथ ने दौरे पर रवाना होने के बारे में सुचना देते हुए ट्विटर पर शनिवार को कहा, ‘मै खुले दिमाग से हर तबके से बात करूंगा जो कश्मीर में समस्याओं का स्थाई समाधान के इच्छुक हो।’ राजनाथ ने कहा, ‘मैं अपने चार दिवसीय जम्मू कश्मीर दौरे में कई प्रतिनिधिमंडल और सोसाइटी से जुड़े लोगो से मुलाकात करूंगा।’

राजनाथ सिंह अपने इस चार दिवसीय दौरे में घाटी में स्थाई रूप से शांति बहाली, कश्मीर की जम्हूरियत में विश्वास बहाली, घाटी के सम्पूर्ण विकास और कानून-व्यवस्था की बहाली पर पूरा ध्यान केंद्रित करेंगे। हालांकि जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती घाटी में शांति बहाली के लिए अलगाववादियों सहित सभी हितधारकों से बिना किसी शर्त की बातचीत की हमेशा आवाज बुलंद करती रही हैं।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मिशन कश्मीर के तहत राजनाथ सिंह का यह दौरा सियासी लिहाज से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। विश्वास बहाली के तहत राजनाथ सिंह हाल ही में आतंकी हमले में शहीद हुए एएसआई अब्दुल रशीद के घर जाकर भी सांत्वना प्रकट कर सकते हैं। राजनाथ शहीद की पांच वर्षीय बेटी जोहरा के आंसू पोंछ सकते हैं। वहीं जोहरा की आजीवन पढ़ाई का खर्च उठाने की क्रिकेटर गौतम गंभीर ने पूर्व में ही घोषणा की है।

राजनाथ सिंह अपने दौरे के दौरान विभिन्न संगठनों, छात्रों, युवकों, स्वयंसेवी संगठनों, कारोबारियों, सिविल सोसाइटी के सदस्यों, अधिवक्ताओं से मुलाकात करेंगे। राजनाथ सिंह पर्यटन से जुड़े व्यवसाई वर्ग, होटल संचालकों तथा शिकारा वालों के प्रतिनिधिमंडल से भी मिलेंगे।

सूत्रों ने बताया कि राजनाथ से मुलाकात के लिए विभिन्न दलों को भी चर्चा के लिए आमंत्रित किया गया है। राजनाथ सिंह का प्रयास रहेगा की इस दौरे में सबसे कश्मीर में स्थाई समाधान तथा केंद्रीय स्तर पर उठाए जाने योग्य कदमों के बारे में सुझाव लिए जाएं।

महबूबा-वोहरा से जानेंगे सियासी हालात
राजनाथ सिंह अपने दौरे के दौरान प्रदेश के राज्यपाल एन एन वोहरा तथा मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से भी सूबे के हालात तथा सुरक्षा व्यवस्था संबंधी ब्योरा जानेंगे। राजनाथ सिंह विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों के साथ बैठक कर घुसपैठ तथा आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करेंगे।

घाटी में कानून व्यवस्था बनाए रखने तथा आतंकवाद से लड़ रहे सुरक्षा बलों का हौसला आफजाई के लिए राजनाथ सिंह सुरक्षा बलों की किसी यूनिट का भी दौरा करेंगे।

सूत्रों के अनुसार राजनाथ सिंह अपने दौरे के चौथे और आखिरी दिन जम्मू का भी दौरा करेंगे। इस दौरान राजनाथ सिंह वहां कश्मीरी पंडितों तथा रिफ्यूजियों सहित चैंबर और कारोबारियों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात करेंगे। इसके तहत वह रिफ्यूजियों को प्रधानमंत्री पैकेज के तहत मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी हासिल करेंगे। वहीं कई संगठन ‘अनुच्छेद 35ए’ पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह को ज्ञापन सौंपने की तैयारी करने में लगे है।

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US