Categories
India

उग्रवाद नहीं बेरोज़गारी असम की मूल समस्या — राज्यपाल

बरपेटा — असम के राज्यपाल प्रो जगदीश मुखी ने निचले असम के बरपेटा ज़िला मुख्यालय-स्थित सर्किट हाउस में बुधवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि असम की मूल समस्या उग्रवाद या कानून-व्यवस्था की ख़राब स्थिति नहीं बल्कि यहां की मूल समस्या बेरोज़गारी है।

राज्यपाल ने कहा कि देश की आज़ादी के दिनों असम का सकल घरेलू उत्पाद पूरे देश की तुलना में अधिक था लेकिन धीरे-धीरे इसमें कमी आ गई।

राज्यपाल ने संवाददाता सम्मेलन में अपने बरपेटा के कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी। राज्यपाल यहां बरपेटा सत्र (मठ) का भ्रमण करने आए थे। उन्होंने कहा कि असम के सत्र न सिर्फ धार्मिक बल्कि सामाजिक और लोकतांत्रिक स्थिति को भी मजबूत करते आए हैं। उनके साथ बरपेटा के ज़िलाधिकारी थानेश्वर मालाकार भी उपस्थित थे।

राज्यपाल ने असंतोष ज़ाहिर करते हुए कहा कि अपने इस दौरे में उन्होंने कई स्कूलों एवं सरकारी संस्थानों का निरीक्षण किया है। निरीक्षण के दौरान उन्हें विभिन्न स्तर पर स्वच्छता में कमी देखने को मिली है। इस संदर्भ में उन्होंने ज़िलाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही पूरे ज़िले में स्वच्छता अभियान चलाने का निर्देश दिया।

राज्यपाल ने कहा कि एक समय का विकसित असम फिर से विकास की राह पर अग्रसर हो रहा है। इसके लिए सरकार विभिन्न स्तर पर प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार चीन का खोनसिंग शहर चीन के मुख्य वाणिज्य केंद्र जैसा बन गया है। उसी प्रकार गुवाहाटी को भी विकसित करने की योजना पर सरकार कार्य कर रही है। जल मार्ग, सड़क मार्ग, हवाई मार्ग के साथ ही इंटरनेट का जाल भी फैलाने के लिए कार्य चल रहा है।

प्रो मुखी ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि गुवाहाटी के बोरझार-स्थित लोकप्रिय गोपीनाथ बोरदलै अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से प्रत्येक आधे घंटे पर विमान उड़ान भरते हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में इस दिशा में और अधिक प्रगति होने वाली है। हवाई अड्डे पर नए टर्मिनल बिल्डिंग के निर्माण कार्य के संपन्न हो जाने के बाद यहां और अधिक हवाई जहाज़ आएंगे। गुवाहाटी को पूरे दक्षिण एशिया के देशों का द्वारमुख बनाने का प्रयास चल रहा है। 65 मंज़िला ट्विन टावर ट्रेड सेंटर का गुवाहाटी में निर्माण को लेकर सरकार एमओयू भी साइन कर चुकी है। आने वाले दिनों में गुवाहाटी का बहुत तेज़ी से विकास होने वाला है।

राज्यपाल ने राज्य की जनता से अपील की कि वे परिश्रम के बल पर फिर से असम को समृद्ध राज्य बनाने के लिए आगे बढ़े। सरकार हर स्तर पर असम को विकसित करने के लिए प्रयास कर रही है। केंद्र सरकार पूर्वोत्तर के राज्यों के विकास को लेकर अत्यंत गंभीर है। राज्यपाल को बरपेटा प्रेस क्लब द्वारा सम्मानित भी किया गया। अपने बरपेटा भ्रमण के दौरान राज्यपाल ने प्रशासनिक एवं अन्य विभागीय पदाधिकारियों के साथ बैठक कर ज़िले में चल रही विकास एवं स्वच्छ भारत अभियान-संबंधी योजनाओं की समीक्षा के साथ ही आवश्यक दिशानिर्देश भी जारी किए।

हिन्दुस्थान समाचार /श्रीप्रकाश/अरविंद/सुप्रभा/प्रतीक

Sirf News Network

By Sirf News Network

Ref: ABOUT US

Leave a Reply